I-T के रडार पर 30 लाख से ज्यादा वैल्यू वाली प्रॉपर्टी

0
187
नई दिल्‍ली:एजेंसी।इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट बेनामी प्रॉपर्टी एक्ट के तहत उन लोगों के टैक्‍स प्रोफाइल जांच रहा है, जिन लोगों ने 30 लाख रुपए से अधिक कीमत पर अपनी प्रॉपर्टी की रजिस्‍ट्री करवाई है। यह जानकारी देते हुए सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्‍ट टैक्‍स (सीबीडीटी) चेयरमैन सुशील चंद्रा ने कहा कि डिपार्टमेंट उन शेल कंपनियों और उनके डायरेक्‍टर्स की भी जांच कर रहा है, जिन्‍हें पिछले दिनों डिबार किया गया था।
 621 प्रॉपर्टी अटैच 
पत्रकारों से बातचीत करते हुए आईटी डिपार्टमेंट के चीफ ने बताया कि बेनामी प्रॉपर्टी के तहत अब तक 621 प्रॉपर्टी को अटैच किया गया है, जिनमें कई बैंक अकाउंट भी शामिल हैं। इसमें लगभग 1800 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी शामिल है।
 टैक्‍स प्रोफाइल होगा चैक 
चंद्रा ने कहा कि हम उन सभी इंस्‍ट्रुमेंट्स खत्‍म कर देंगे, जिनका इस्‍तेमाल ब्‍लैकमनी को व्‍हाइट करने में किया जाता है। इनमें शेल कंपनियां भी शामिल हैं। साथ ही, डिपार्टमेंट 30 लाख रुपए से अधिक रजिस्‍ट्री वेल्‍यू वाली सभी प्रॉपर्टी के मालिकों का टैक्‍स प्रोफाइल भी चेक कर रहा है। यदि इन लोगों को प्रोफाइल गलत या संदिग्‍ध पाया जाता है तो उनके खिलाफ बेनामी प्रॉपर्टी एक्‍ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।
 24 यूनिट शुरू की 
चंद्रा ने कहा कि वे बेनामी एसेट केसों को बहुत गंभीरता से ले रहे हैं और टैक्‍स अधिकारी इस फ्रंट पर बहुत काम कर रहे हैं। हमने बेनामी एक्‍ट का पालन करने के लिए 24 यूनिट्स शुरू की है और हम कई तरह के सोर्सेज से इंफॉर्मेशन इकट्ठा कर रहे हैं। जो आने वाले समय में हमारी काफी मदद करेंगे।
 शेल कंपनियों की भी होगी जांच 
चंद्रा ने कहा कि पिछले दिनों बंद कराई गई शेल कंपनियों की भी जांच की जा रही है, यदि इन कंपनियों के पास बनोमी प्रॉपर्टी है या इन्‍होंने कोई फाइनेंशियल ट्रांजैक्‍शन की है जो उनके टैक्‍स प्रोफाइल से मैच नहीं करती है तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)